महाराष्ट्र के बाद अब पंजाब-राजस्थान भी कह रहे- ‘वैक्सीन स्टॉक कम’

0
136

महाराष्ट्र के बाद अब पंजाब-राजस्थान भी कह रहे- ‘वैक्सीन स्टॉक कम’

मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह, अशोक गहलोत ने कहा- 2 से 3 दिन में खत्म हो जाएगा वैक्सीन स्टॉक

मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह, अशोक गहलोत ने कहा- 2 से 3 दिन में खत्म हो जाएगा वैक्सीन स्टॉक

महाराष्ट्र के बाद पंजाब और राजस्थान की सरकारों ने भी कोरोना वैक्सीन की कमी पर चिंता जताई है. इस बीच देश में जारी कोरोना वायरस की दूसरी लहर घातक साबित हो रही है, पिछले 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के करीब 1 लाख 45 हजार मामले सामने आए हैं. वहीं देश में स्वास्थ्य सुविधाओं की कमी से हालात खराब हो रहे हैं.

पंजाब में बचा सिर्फ 5 दिन का वैक्सीन स्टॉक: सीएम अमरिंदर सिंह

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि “उनके राज्य में सिर्फ 5 दिनों के लिए वैक्सीन डोज बचे हैं और अगर तय टारगेट के तहत दो लाख टीके रोजाना लगाए गए, तो यह वैक्सीन जल्द खत्म हो जाएगी. ऐसे में केंद्र सरकार से वैक्सीन का स्टॉक भेजने को कहा गया है.”

सीएम अमरिंदर सिंह ने कहा कि “पंजाब में सिर्फ 5 दिन (5.7 लाख वैक्सीन डोज) की सप्लाई बची है. राज्य में वैक्सीनेशन के मौजूदा स्तर के तहत, 85 हजार से 90 हजार लोगों को कोविड का टीका लगाया जा रहा है. हमें आशा है कि केंद्र जल्द ही वैक्सीन के नए डोज भेजेगा. अगर राज्य वैक्सीनेशन के मौजूदा टारगेट को पूरा करता है तो, हमें रोजाना करीब कोरोना वैक्सीन की 2 लाख की जरुरत होगी, ऐसे में मौजूदा वैक्सीन का स्टॉक सिर्फ 3 दिन के लिए ही बचा है.

राजस्थान में सिर्फ 2 दिन का वैक्सीन स्टॉक बचा: सीएम अशोक गहलोत

वहीं राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी चेतावनी दी है कि “खराब हालात के बीच राज्य में सिर्फ 48 घंटे या उससे कम का कोविड वैक्सीन स्टॉक बचा है. उन्होंने केंद्र सरकार से तुरंत वैक्सीन के 30 लाख डोज भेजने का आग्रह किया है.”

“हम कोरोना टीकाकरण में तेजी लाने की योजना बना रहे हैं. इसके तहत रोजाना 5 लाख लोगों का वैक्सीनेशन करने का लक्ष्य है. लेकिन राज्य में कोरोना का मौजूदा स्टॉक सिर्फ अगले 2 दिन में खत्म हो जाएगा. इसलिए हम केंद्र सरकार से अपील करते हैं कि वे फौरन कोविड वैक्सीन की 30 लाख खुराक जल्द भेजे.”

अशोक गहलोत, मुख्यमंत्री, राजस्थान

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि “केंद्र सरकार के अनुसार, पंजाब में कोरोना वैक्सीनेशन की दर, देश में सबसे कम है. इसे लेकर लोगों के अंदर काफी गुस्सा है.”

बता दें कि अशोक गहलोत और अमरिंदर सिंह ने 10 अप्रैल को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में शामिल हुए थे. जिसमें कांग्रेस शासित राज्यों में कोविड से जुड़े हालात की समीक्षा की गई थी.

इससे पहले महाराष्ट्र, दिल्ली समेत कुछ और राज्यों ने भी देश में कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर राज्यों में वैक्सीन की कमी पर चिंता जताई है और केंद्र सरकार से वैक्सीन की सप्लाई बढ़ाने को कहा है ताकि टीकाकरण अभियान सुचारू रूप से चल सके.

LEAVE A REPLY