एक भी पत्रकार को खरोंच आई, या किसी ने धक्केशाही की तो सड़कों पर उतरेंगे 2000 से ज्यादा पत्रकार, पंजाब भर में होगा विरोध प्रदर्शन, माहौल खराब हुआ तो जिम्मेदार होगा प्रशासन – जसबीर सिंह पट्टी (प्रधान)

0
27

*Big News 🟧 Digital Media के पत्रकारों के साथ खड़ा हुआ पंजाब का सब से बड़ा संगठन – “चंडीगढ़ पंजाब जर्नलिस्टस एसोसिएशन”*

*🟥एक भी पत्रकार को खरोंच आई, या किसी ने धक्केशाही की तो सड़कों पर उतरेंगे 2000 से ज्यादा पत्रकार, पंजाब भर में होगा विरोध प्रदर्शन, माहौल खराब हुआ तो जिम्मेदार होगा प्रशासन – जसबीर सिंह पट्टी (प्रधान)*

अमृतसर ( ) बदलते युग के साथ दुनिया भर में अब प्रिंट मीडिया के साथ साथ डिजिटल मीडिया को भी लोग ज्यादा पसंद करने लगे हैं परंतु जालंधर की एक अखबार मालिक को शायद डिजीटल मीडिया की उन्नति बर्दाश्त नहीं हो रही, जिस कारण अखबार में लगातार पिछले 1 सप्ताह से डिजिटल मीडिया के पत्रकारों के खिलाफ झूठी खबरें प्रकाशित की जा रही हैं !

इस मामले का पंजाब के एक बड़े पत्रकार संगठन ने कड़ा संज्ञान लिया है|

इस मामले बारे जानकारी देते हुए चंडीगढ़ पंजाब जर्नलिस्टस एसोसिएशन पंजाब के प्रधान स.जसवीर सिंह पट्टी ने कहा कि उक्त अखबार को असल में बड़े कारोबारी घराने द्वारा चलाया जा रहा है| जिस कारण उन्हें पत्रकारिता की असल जानकारी तक नहीं है|

स.जसवीर सिंह पट्टी ने कहा कि जिस प्रकार से लगातार डिजिटल मीडिया के खिलाफ झूठी खबरें अखबार द्वारा प्रकाशित की जा रही हैं । अगर वे तुरंत बंद नहीं हुई तो पूरे पंजाब में अखबार की कापियों को जलाया जाएगा तथा हर जिले में अखबार के मालिक के खिलाफ पुतला फूक प्रदर्शन किये जायेंगे |

उन्होंने केंद्र सरकार और पंजाब सरकार से अपील करते हुए कहा कि डिजिटल मीडिया के पत्रकारों के खिलाफ झूठी खबरें पब्लिश करने पर रोक लगाई जाएं। या तो जिन को निशाना बनाया जा रहा है उन के खिलाफ कोई सबूत पेश करें ।

उन्होंने पंजाब सरकार को चेतावनी दी कि अगर इस अखबार ने डिजिटल मीडिया की आवाज दबानी बन्द नही की तो पंजाब का समूह पत्रकार भाईचारा मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह का घेराव करेगा |

उन्होंने मांग की कि पत्रकारिता के जो भी सिद्धांत हैं उन्हें प्रिंट मीडिया डिजिटल मीडिया, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया सबको सम्मान सहित पालन करना चाहिए। परंतु पिछले लंबे समय से ऐसा देखा जा रहा है कि उक्त अखबार द्वारा लगातार डिजिटल मीडिया के खिलाफ उल्टी-सीधी बिना सबूत के खबरें प्रकाशित कर रही हैं और पत्रकारिता के नियमों की धज्जियां उड़ रही है|

उन्होंने कहा कि उक्त अखबार को अगर जल्द ही सीधे रास्ते पर ना लाया गया तो इससे पंजाब का माहौल खराब हो सकता है|

उन्होंने कहा कि जालंधर के डिप्टी कमिश्नर व पुलिस कमिश्नर उक्त अखबार को नोटिस जारी करके तुरंत बेबुनियाद खबरें डिजिटल मीडिया के खिलाफ लगाने पर रोक लगाएं, वरना इस मामले को लेकर पंजाब भर के हमारी संस्था के 2000 पत्रकार पंजाब भर में उक्त अखबार के खिलाफ प्रदर्शन करेंगे।

और अगर माहौल खराब होता तो उसका जिम्मेदार प्रशासन होगा|

उन्होंने कहा ये भी पता चला है कि डिजिटल मीडिया के पत्रकारों को धमकिया दी जा रही है।

उन्होंने कहा अगर डिजिटल मीडिया के किसे भी पत्रकार के खिलाफ झूठे मामले दर्ज करने की कोशिश की गई या हमला हुआ या खरोंच भी आई तो उस का जिम्मेदार उक्त अखबार का मालिक व् जालंधर पुलिस प्रशासन होगा।

LEAVE A REPLY