जिला प्रशासन ने शैक्षिक संस्थानों को दिए पोस्ट मैट्रिक स्कालरशिप योजना के निर्देशों की पालना करने के आदेश

0
5

  • Google+

जालंधर ( हरीश शर्मा ) 02 मई 

 अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर (ज) अमरजीत बैंस ने शैक्षिक संस्थानों के प्रतिनिधियों को अपने संस्थानों में पोस्ट मैट्रिक स्कालरशिप योजना के निर्देशों की पालना यकीनी बनाने को कहा ,जिससे ऐस.सी. विद्यार्थियों को इस योजना का बनता लाभ दिया जा सके। बता दे कि विद्यार्थी संगठन के नेताओं ने कुछ शैक्षिक संस्थानों की तरफ से पोस्ट मैट्रिक योजना के निर्देशों का उल्लंघन और डिगरी जारी न करने संबंधी प्रशासन को शिकायत की गई थी।

जिला प्रशासन की तरफ से शिकायत का नोटिस लेते हुए आज यहां जिला प्रशासकीय कंपलेक्स में अलग -अलग शैक्षिक संस्थानों के प्रिंसिपल /प्रतिनिधियों की बैठक बुलाई गई। बैठक की अध्यक्षता करते अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर अमरजीत बैंस ने कहा कि पोस्ट -मैट्रिक स्कालरशिप योजना अनुसूचित जाति के विद्यार्थियों का अधिकार है। इसलिए यह यकीनी बनाया जाए कि अनुसूचित जाति के सभी विद्यार्थी अपने कार्य को बिना किसी मुश्किल से उचित ढंग से पूरा कर सकें। पोस्ट मैट्रिक स्कालरशिप योजना के दिशा -निर्देशों से अवगत करवाते अतिरिक्त डिप्टी कमिशनर ने कहा कि इसके अंतर्गत हर शिक्षा संस्थान सरकार की तरफ से तय फीस लेने के लिए पाबंद है और इसके उल्लंघन को बर्दाश्त नहीं किया जायेगा।

उन्होंने आगे कहा कि यदि कोई संस्थान पोस्ट मैट्रिक स्कालरशिप योजना के दिशा -निर्देशों का उल्लंघन करता पाया गया तो उसके ख़िलाफ़ बनती कानूनी कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने यह भी कहा कि फीस जमा न कर पाने के कारण यदि डिग्री पूरी कर चुके किसी विद्यार्थी की डिग्री जारी करने पर संस्थान की तरफ से रोक लगाई जाती है तो इस सम्बन्धित जिला भलाई अधिकारी के पास शिकायत की जा सकती है। उन्होंने इस अवसर पर शिक्षा संस्थानो को पोस्ट मैट्रिक स्कालरशिप योजना अधीन विद्यार्थियों की नियमों अनुसार बनती कम से -कम हाजिरी को भी यकीनी बनाने के लिए कहा।

अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर ने आगे जानकारी देते बताया कि अनुसूचित जाती के विद्यार्थियों के लिए पोस्ट मैट्रिक स्कालरशिप योजना के लिए फ्रीशिप कार्ड जारी करने के लिए 21 अप्रैल से पोर्टल खोल दिया गया है। योग्य विद्यार्थी आनलाइन इस पोर्टल पर जा कर फ्रीशिप कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि अनुसूचित जाती के साथ संबंधित विद्यार्थी, जिनके माता -पिता की सालाना आय 2.50 लाख रुपए से कम है और वह 10वीं के बाद अलग -अलग कोर्स के लिए पंजाब या पंजाब से बाहर संस्थानों में उच्च शिक्षा लेने के लिए वज़ीफ़े के योग्य हैं, के लिए पोस्ट मैट्रिक स्कालरशिप फार एससी के अंतर्गत साल 2022 -23 के लिए नये विद्यार्थियों को फ्रीशिप कार्ड जारी करने के लिए वैबसाईट http://www.scholarships.punjab.gov.in पर डा. अम्बेडकर पोर्टल खोला गया है।

उन्होंने बताया कि योजना के नियमों के अंतर्गत सिर्फ़ नये विद्यार्थी ही पोर्टल पर अप्लाई कर सकते हैं। उन्होंने शैक्षिक संस्थाओं के प्रतिनिधियों को कहा कि विद्यार्थियों के फ्रीशिप कार्ड बनवाने में उनको पूरा सहयोग दिया जाये और इस सम्बंधित अधिक से अधिक विद्यार्थियों को जानकारी दी जाए ,जिससे कोई भी विद्यार्थी फ्रीशिप कार्ड बनवाने से वंचित न रहे। इस अवसर पर ऐस.डी.ऐम. हरप्रीत सिंह अटवाल, ऐस.डी.ऐम. बलबीर राज सिंह, जिला भलाई अधिकारी लखविंदर सिंह, अलग -अलग शैक्षिक संस्थाओं के प्रतिनिधि और विद्यार्थी नेता मौजूद थे।

LEAVE A REPLY