तीसरे दिन भी पनबस कर्मचारियों ने बसों के स्टेरिंग नहीं थामे किया किया ट्रांसपोर्ट मंत्री के घर का घेराव

0
1

  • Google+

अमृतसर ( रंजीत सिंह ) 

बटाला डिपो के कंडक्टर की कथित नाजायज रिपोर्ट करने का मामला थमने का नाम नहीं ले रहा। गुस्साए पनबस कार्यकर्ता ने बीते दिन 2 घंटे के लिए पंजाब में बस स्टैंड को बंद कर दिया था और कंडक्टर पर दर्ज मामले को रद्द करने की चेतावनी दी थी। पंजाब रोडवेज और पनबस कॉन्ट्रैक्ट वर्कर यूनियन द्वारा अपने साथी कंडक्टर की नजायज रिपोर्ट के चलते बसों का चक्का जाम किया ।

जिसके चलते आज तीसरे दिन भी पनबस कर्मचारियों ने बसों के स्टेरिंग नहीं थामे और ट्रांसपोर्ट मंत्री के घर का घेराव, जालंधर व खरड़ में यूनियन प्रदर्शन करने के लिए उतरी हुई है। उनके समर्थन में पीआरटीसी यूनियन ने भी बसों के पहिए रोक दिए हैं और उनकी हिमायत में रोष प्रदर्शन कर रहे हैं। वहीं आज इस कंडक्टर की बहाली के मामले को शांत कराने के लिए चंडीगढ़ से टीम अमृतसर पहुंची, लेकिन मामला शांत करने के लिए कोई समझौता नहीं हो सका।

मले की जानकारी देते हुए अमृतसर के डिपो अध्यक्ष-2 केवल सिंह समेत 4 अहम अधिकारियों से बात कर मामले को शांत कराने की कोशिश की गई थी, लेकिन उनमें कोई समझौता नहीं हो सका। अमृतसर-1 के चेयरमैन जोध सिंह ने कहा कि कंडक्टर पृथ्वीपाल सिंह को बिना शर्त टंकी से बहाल करने और फिर 12 कंडक्टरों को फिरोजपुर और पट्टी डिपुओं में बदली को रद्द करने का प्रस्ताव था, जिस पर सहमति नहीं बन सकी। उन्होंने कहा कि अगर कल दोपहर 12 बजे तक समस्या का समाधान नहीं हुआ तो उसके बाद पीआरटीसी बसें भी सड़कों पर दौड़ती नजर नहीं आएंगी।

LEAVE A REPLY