डिजिटल मीडिया एसोसिएशन के सेक्रेटरी गौरव मड़िया पर जानलेवा हमला करने वाले आरोपियों पर हुई FIR दर्ज.

0
94

डिजिटल मीडिया से जुड़े पत्रकारों को अकेला न समझे शरारती तत्व, हरेक पत्रकार के साथ चट्टान की तरह खड़ी हैं डीएमए. – अमन बग्गा

 पत्रकारों पर हमला करने वालो के खिलाफ सख्त से सख्त कारवाई करे पुलिस प्रशासन, पत्रकारों की सुरक्षा यकीनी बनाए मान सरकार- प्रदीप वर्मा/अजीत सिंह बुलंद

जालंधर (कपूर )डिजिटल मीडिया एसोसिशन की एक बैठक जालंधर में आयोजित की गई। इस मौके एसोसिएशन के प्रधान अमन बग्गा, चेयरमैन प्रदीप वर्मा, महासचिव अजीत सिंह बुलंद, PRO धर्मेंद्र सौंधी, सीनियर उपाध्यक्ष अमरप्रीत सिंह, चीफ कोऑर्डिनेटर गुरप्रीत संधु, सीनियर उपाध्यक्ष नीतू कपूर, चीफ एडवाइजर जसविंद्र सिंह आज़ाद व उपाध्यक्ष संदीप वर्मा नरेंद्र गुप्ता, स्क्रीनिंग कमेटी हेड सुमेश शर्मा ,कोऑर्डिनेटर विशाल शर्मा, संयुक्त सेक्रेटरी सेक्रेटरी सन्नी भगत पवन कुमार विजय अटवाल, कोऑर्डिनेटर केवल कृष्ण मौजूद थे।

इस अवसर पर सभी पत्रकार साथियों ने एकजुट होकर गत दिवस कपूरथला के सीनियर पत्रकार व डीएमए के सचिव गौरव मड़िया पर गुण्डातत्वों द्वारा जानलेवा हमला किये जाने की घोर शब्दो में निंदा की।

इस मौके अमन बग्गा और प्रदीप वर्मा ने कहा कि पत्रकारों पर हमला करने वाले गुंडे यह न समझें कि गौरव मड़िया अकेला है, डिजीटल मीडिया के सैंकड़ों पत्रकार उनके साथ हैं। उन्होंने कहा कि पत्रकारों पर हमले न हम ने कभी बर्दाश्त किये है न ही करेंगे।

इस मौके एसोसिएशन के महासचिव अजीत सिंह बुलंद और पीआरओ धरमिंदर सोंधी उपाध्यक्ष संदीप वर्मा ने कहा कि कपूरथला पुलिस प्रशासन का हम आभार व्यक्त करते है जिन्होंने इस मामले में सख्त कार्रवाई करते हुए आरोपियों के खिलाफ एफआइआर दर्ज की है।

उन्होंने कहा कि हम यही मांग करते है कि सभी हमलावरों को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाए। उन्होंने कहा कि हमें आंशका है कि दोबारा फिर से गौरव पर हमला हो सकता है इसलिए गौरव मडिया की सुरक्षा यकीनी बनाई जाए।

इस मौके गुरप्रीत सिंह संधू और जसविंदर सिंह आज़ाद ने मुख्यमंत्री भगवंत मान से मांग की कि पंजाब के डिजिटल मीडिया से जुड़े पत्रकारों की सुरक्षा के लिए कड़े कदम उठाए जाएं और दोषियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कारवाई के निर्देश दिये जायें ताकि कोई भी भविष्य में पत्रकार पर हमला करने से पहले परिणाम के बारे में जरूर सोचे।

LEAVE A REPLY