नवांशहर जिले में लगातार बढ़ रहे कोरोना पॉजिटिव मामले

    0
    73

    नवांशहर: जिले में लगातार बढ़ रहे कोरोना पॉजिटिव मामलों में जिस तरह से 44 स्कूलों के 439 बच्चे तथा 69 अध्यापक कोरोना की चपेट आ चुके हैं, उससे कोरोना का डर लोगों तथा विशेष तौर पर बच्चों के अभिभावकों में बढ़ रहा है। पंजाब में सरकारी तथा निजी स्कूलों को खोलने के आदेशों के बाद अब तक 44 स्कूलों के 439 विद्यार्थी व 69 अध्यापक वायरस की चपेट में आ चुकी है।

    यहां बता दें कि कोरोना की चपेट में आने वाले स्कूलों में अधिकतर संख्या सरकारी स्कूलों की है जिनमें सरकार के दावों के बावजूद सेहत विभाग तथा सरकार की हिदायतों का पूरी तरह से पालना न होना बताया जा रहा है। सरकार इन स्कूलों में कोरोना की रोकथाम के लिए जरूरी सैनेटाइजेशन, मास्क इत्यादि अन्य जरूरी उपकरण उपलब्ध करवाने के दावे तो कर रही है परन्तु जिस तरह से कोरोना सरकारी स्कूलों के स्टाफ व बच्चों को अपनी चपेट में ले रहा है, उससे सरकार के दावों की पोल खुलती नजर आ रही है।

    सेहत विभाग से मिली जानकारी के अनुसार सरकारी सरकारी सी.सै. स्कूल राहों में 3 अध्यापकों तथा 78 बच्चों सहित 81 मामले, सीनियर सेकेंडरी स्कूल उसमानपुर के 48 विद्यार्थी तथा 8 अध्यापकों सहित 48 मामले, सरकारी स्कूल नवांशहर में 40 विद्यार्थी, सरकारी हाई स्कूल तथा प्राइमरी स्कूल सलोह में 3 अध्यापक तथा 35 विद्यार्थियों सहित 38 मामले, सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल करियाम में 3 अध्यापक तथा 70 विद्यार्थी के साथ 73 मामले, आसा नंद आर्य सीनियर सेकेंडरी स्कूल नवांशहर में 4 अध्यापक तथा 18 बच्चों सहित 22 मामले, सरकारी स्कूल चहडमजारा में 19 विद्यार्थी तथा 4 अध्यापकों सहित 23 मामले, सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल मूसापुर में 2 अध्यापक तथा 5 बच्चों सहित 7 मामले, सरकारी हाई स्कूल टकारला में 14 विद्यार्थी तथा 1 अध्यापक सहित 15 मामले, खालसा स्कूल नवांशहर के 13 विद्यार्थी, सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल बहिराम में 9 विद्यार्थियों तथा 3 अध्यापकों सहित 12 मामले तथा आदर्श स्कूल जंडियाला में 3 विद्यार्थी के अतिरिक्त अन्य कई स्कूलों में 1-1, 2-2 मामले सामने आए हैं। वहीं शनिवार को सरकारी स्कूल मल्लपुर तथा सडोआ के 33 विद्यार्थियों के अतिरिक्त 10 अध्यापक पॉजिटिव पाए गए हैं।

    LEAVE A REPLY